Advt.
विज़न एक्सपर्ट न्यूज़ एप्लीकेशन डाउनलोड करें और अपने क्षेत्र में होने वाले कार्यक्रम व हर गतिविधि से अपडेट रहें। अभी एप्लीकेशन डाउनलोड करें और पाएं उपहार जीतने का सुनहरा अवसर वो भी मीडिया के मंच से। VEN एप्लीकेशन प्री लॉन्चिंग मोड में है। विज़न एक्सपर्ट न्यूज़ एप्लीकेशन से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या के लिए संपर्क कर सकते हैं-9997709577
Updates
अभी ven app download करें और अपने व्यापार का नि:शुल्क प्रचार प्रसार करने का मौका पाएं। VEN app Download करें और पाएं मीडिया के मंच से सम्मानित होने का मौका, अभी app download करें क्यूंकि चुनिंदा लोगों को ही सम्मानित किया जाएगा।

सचिव सोनिका वर्मा ने किया जिला कारागार का निरीक्षण

मथुरा। उ०प्र० राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, लखनऊ तथा जनपद न्यायाधीश, मथुरा राजीव भारती के निर्देशानुसार आज दिनांक 05.08.2022 को जिला कारागार, मथुरा का निरीक्षण सोनिका वर्मा, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मथुरा द्वारा किया गया। इस अवसर पर जिला कारागार मथुरा के अधीक्षक ब्रजेश कुमार, वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डॉ. उपेंद्र सोलंकी, चिकित्सा अधिकारी डॉ. उत्पल सरकार, जेलर महाप्रकाश सिंह, डिप्टी जेलर करुणेश कुमारी, शिवानी यादव व अनूप कुमार, लेखाकार चूड़ामणि तिवारी,फार्मासिस्ट रमाकांत वर्मा, जेल विजिटर तारा चंद एडवोकेट व जेल बंदी पराविधिक स्वयसेवकगण आदि उपस्थित रहे।

जिला कारागार मथुरा में आज निरीक्षण दौरान कुल 1754 बंदी निरूद्ध होना पाया गया।
जिला कारागार चिकित्सालय के निरीक्षण दौरान पाया गया कि इस चिकित्सालय में 69 बंदी मरीजों का ईलाज किया जा रहा है, जिन्हें 03 अलग-अलग बैरकों में रखा गया है। बंदी मरीजों से पृथक-पृथक वार्ता की गई व सभी के स्वास्थ व ईलाज के बारे में चिकित्सक से जानकारी ली गई। भीषण गर्मी से बचने हेतु इस चिकित्सालय में बंदी मरीजों के लिए कूलर व पंखे लगे हुए पाये गये, जोकि चालू अवस्था में थे। मनोरंजन हेतु एक टी.वी. लगा है, स्वच्छ पानी हेतु एक आर.ओ. लगा पाया गया। भर्ती बंदी मरीजों की समस्याओं को सुना गया तथा उनके निराकरण हेतु जेल चिकित्सक व जेल प्रशासन को आवश्यक दिशानिर्देश दिये गये।

महिला बंदियों हेतु जिला कारागार की महिला बैरक में प्रथक से चिकित्सालय बनाया गया है, जिसमे महिला चिकित्सक व दो नर्सों द्वारा सप्ताह में एक दिन महिला बंदियों का स्वास्थ परीक्षण किया जाता है। महिला बैरक में निरुद्ध महिला बंदियों से वार्ता की गई तथा उनके प्रकरणों की जानकारी ली गई। खजानी इंस्टीट्यूट द्वारा 14 महिला बंदियों को ब्यूटी पार्लर का कार्य सिखाया जा रहा है।

पाकशाला (रसोई घर) का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण दौरान कुछ बंदी सायं का भोजन बनाने की तैयारी कर रहे थे। एक बड़ी मशीन द्वारा रोटियां से की जा रही थी। पाकशाला में साफ-सफाई पाई गई। महिला एवं पुरूष बंदियों को आज प्रातः नाश्ते में चाय, दलिया व गुड़ तथा दोपहर के भोजन में उर्द की दाल, आलू सोयाबरी की सब्जी, दाल चना व रोटी दी गई है। सांयकाल के भोजन में रोटी, साबुत मसूढ़ की दाल, आलू ,लोकी की सब्जी दी जायेगी।

पेयजल हेतु जेल में एक बड़ा आर.ओ. प्लांट लगा है, बैरकों में आर.ओ. लगे हैं।

निरीक्षण दौरान उपस्थित बंदियों से निशुल्क विधिक सहायता हेतु अधिवक्ता के सम्बंध में जानकारी ली गई, बदियों द्वारा बताया गया कि सभी के पास उनके व्यक्तिगत / सरकारी अधिवक्ता मौजूद हैं बंदियों द्वारा खाने-पीने की कोई समस्या होना नहीं बताया गया। जिला कारागार में साफ-सफाई पाई गई।

Comments
Leave Your Comment

Best News

Stay Connected

Download our app and get latest news and updates. Watch live news anytime.